当前位置: इलेक्ट्रॉनिक हॉकी खेल > हाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खे > हाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खेल 80 के दशक डायबिटीज की तरह ही इस रोग के मरीजों को
随机内容

हाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खेल 80 के दशक डायबिटीज की तरह ही इस रोग के मरीजों को

时间:2020-09-16 16:00 来源:इलेक्ट्रॉनिक हॉकी खेल 点击:89
Coronavirus डायबिटीज की तरह ही इस रोग के मरीजों को भी है कोरोना का अधिक खतरा

Arthritis And Coronavirus : कोरोनावायरस पूरी दुनिया में तहलका मचा रहा है। तमाम कोशिशों के बावजूद वायरस का प्रकोप थपने का नाम ही नहीं ले रहा। लगातार कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। आपको बता दें कोरोनावायरस से ठीक होने के बाद भी लोगों को कई तरह की समस्याएं हो रही हैं। कोरोना के कारण ठीक हुए मरीज के लिवरहाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खेल 80 के दशक, किडनी और हार्ट पर बुरा असर पड़ा है। Also Read - स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहाहाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खेल 80 के दशक, कोविड रोगियों के लिए मेडिकल ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं

ऐसे में यह एक चिंता का विषय ( Arthritis And Coronavirus) है। पहले से संक्रमित लोग पुन: संक्रमित हो सकते हैंहाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खेल 80 के दशक, ऐसी भी संभावना जताई जा रही है। इस बीच खबर आई है कि कोरोनावायरस गठिया से ग्रसित मरीजों को भी अपनी चपेट में जल्दी ले ( Arthritis And Coronavirus) सकता है।  Also Read - Covid-19 Live Updates: भारत में कोरोना के मरीजों की संख्या हुई 49हाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खेल 80 के दशक,30हाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खेल 80 के दशक, पहला हाथ में फुटबॉल खेल236, अब तक 80,776 लोगों की मौत

डायबिटीज, लंग्स से ग्रसित रोगियों को कोरोना का अधिक खतरा

अबतक इस बात का खुलासा हुआ था कि डायबिटीज और लंग्स से ग्रसित रोगियों को कोरोनावायरस का खतरा अधिक है। ऐसे में उन्हें अधिक ख्याल रखने की जरूरत है। लेकिन अब अर्थराइटिस के मरीजों को लेकर भी ऐसी बातें कही जा रही हैं। एक्टपर्ट के मुताबिक, गठिया के मरीजों को भी इस कोरोनाकाल में सावधानी बरतने की आवश्यता है,हाथ में इलेक्ट्रॉनिक फुटबॉल खेल 80 के दशक ऐसा ना करने से वह जल्द कोरोना की चपेट में आ सकते हैं। Also Read - केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, कोरोनावायरस से लड़ाई अभी जारी रहेगी

बता दें कि अर्थराइटिस (गठिया) एक ऑटोइम्यून डिसऑर्डर है। इस समस्या से ग्रसित रोगियों के इम्यून सिस्टम पर बुरा असर पड़ता है। ऐसे में अगर वे अपना ख्याल नहीं रखते हैं, तो ये उनके लिए घातक साबित हो सकता है।

डॉक्टर की लें सलाह

गठिया से ग्रसित रोगियों में कोरोनावायरस फैलने का अधिक खतरा हो सकता है। वहीं, अगर आपके परिवार में किसी को कोरोना हो गया है, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। इस बीमारी में आपको अधिक ख्याल रखने की आवश्यकता है।

दिल्ली मेट्रो फिर से 7 सितंबर से दौड़ेगी पटरी पर, लेकिन यात्रियों को ध्यान में रखनी होंगी ये जरूरी बातें

एक्सरसाइज करना कोरोना के मरीजों के लिए हो सकता है घातक : रिसर्च

Published : September 5, 2020 1:32 pm | Updated:September 5, 2020 1:37 pm Read Disclaimer Comments - Join the Discussion पहले किसे देनी है कोरोनावायरस वैक्सीन? इस तरह होगी तयपहले किसे देनी है कोरोनावायरस वैक्सीन? इस तरह होगी तय पहले किसे देनी है कोरोनावायरस वैक्सीन? इस तरह होगी तय दिल्ली मेट्रो फिर से 7 सितंबर से दौड़ेगी पटरी पर, लेकिन यात्रियों को ध्यान में रखनी होंगी ये जरूरी बातेंदिल्ली मेट्रो फिर से 7 सितंबर से दौड़ेगी पटरी पर, लेकिन यात्रियों को ध्यान में रखनी होंगी ये जरूरी बातें दिल्ली मेट्रो फिर से 7 सितंबर से दौड़ेगी पटरी पर, लेकिन यात्रियों को ध्यान में रखनी होंगी ये जरूरी बातें ,,
------分隔线----------------------------

由上内容,由इलेक्ट्रॉनिक हॉकी खेल收集并整理。